उठो भारत के नर नारियो हुंकार भरो। गौमाता को राष्ट्र माता स्वीकार करो।।   गौहत्या का कलंक भारत के माथे से मिटाना हैं ,           पुनः राष्ट्र को विश्व गुरु बनाना है।   1966 में धर्म सम्राट करपात्रीजी महाराज के नेतृत्व में गौहत्या बंदी आंदोलन को 2016 में 50 वर्ष पुरे हो रहे हैं।उस आंदोलन में हजारो गौभक्तो ने प्राणों की आहुति दि थी ।उन शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि देने के लिये गौमाता को राष्ट्र माता के पद पर सुशोभित करवाने हेतु । ।। महा जन आंदोलन ।। दिनाँक 28 फरवरी 2016 रविवार को दिल्ली के ऐतिहासिक रामलीला मैदान में पूज्य गोपाल मणि जी महाराज एंव देश के पूज्य सन्तों… Read More

Continue Reading

पंचगव्य निर्माण और फायदे

    पंचगव्य निर्माण और फायदे     पंचगव्य का धार्मिक महत्व तो है ही साथ ही मानव जीवन के स्वास्थ के लिए भी कई गुना इसका महत्व है। पंचगव्य क्या है? पंचगव्य गाय के दूध, घी, दही, गोबर का पानी और गोमूत्र का मिश्रण है। इन पाचों चीजों को मिलाने से जो तत्व बनता है वो पंचगव्य कहलाता है। आयुर्वेद में इसे औषधि के रूप में माना गया है। पंचगव्य रोग नाशक औषधि है क्योंकि गाय के गोबर में चर्म रोग को दूर करने की क्षमता है। गाय के मूत्र में आक्सीकरण की क्षमता की वजह से डीएनए को खत्म होने से बचाया जा सकता है।       गाय के… Read More

Continue Reading

किसानो की भूल गौमाता को बेचना परिणाम गौहत्या

क्या बिना किसी कारण ही ओले किसानों की फसलों को यूँ ही मुफ्त में बर्बाद कर रहे हैं? यदि ऐसा हो रहा है तो वे भगवान पर आरोप लगाकर प्रकृति को चुनौती दे सकते हैं। बिना किसी वजह के कुछ नहीं होता है। हर चीज के पीछे एक कारण होता है, एक मकसद होता है। चाहे हम समझ पाएँ या नहीं समझे। क्या जानकर या फिर अंजाने में किसानों से भी कोई गलती हो सकती हैं ? प्राचीनकाल में किसान सबसे सुखी और खुशहाल हुआ करता था। लोग खेती को सबसे उत्तम व्यवसाय मानते थे। परंतु आधुनिक समय में लोग खेती करने वाले को पीछड़ा हुआ इंसान समझते हैं। यहाँ… Read More

Continue Reading

गौ हत्यारा कोन शायद हम (किसान)

To the first time in the History of India. आज गाय के रहस्यमय कातिलों का पर्दाफाश किया जा रहा है। प्रिय किसान भाइयों, जरा ध्यान से यह पढ़ना। अब मैं आप सबको यह समझाऊँगा कि गौ हत्या का जिम्मेदार कौन हैं, और किसको गौ हत्या का पाप लगेगा? जैसे एक आदमी की आदर्श उम्र 100 साल तथा अच्छे से काम धाम करने की उम्र 60 साल मानी गई है। ठीक ऐसे ही गाय की आदर्श उम्र 30 साल मानी गई हैं। वह 20 साल तक तो मनुष्य की तरह बीना किसी विशेष सेवा के आराम से जी सकती है। जैसे मनुष्य का 60 साल बाद बुढ़ापा आना शुरू हो जाता… Read More

Continue Reading

भारतीय गाय का अर्थ शास्त्र

भारतीय गाय का अर्थ शास्त्र…….. हर इंसान को ज़ीने के लिए कम से कम 3 चीजों की जरूरत है. हवा, पानी और खाना. स्वच्छ हवा रही नहीं (पेट्रोल, डीज़ल), पीने का पानी मुफ्त मिलता नहीं शुद्धता की बात तो अलग है (रासायनिक खेती, ग्लोबल वार्मिंग, गिरता पानी का स्तर), खाने में भी जहर आ चूका है (रासायनिक खेती से भी और मिलावट करने वाले मुनाफाखोरी से भी). भारत इन तीनों समस्या से जूझ रहा है. भारत की कुछ प्रमुख समस्याएँ :- 1. किसानों की आत्महत्या. (कारण हर चीज बाहर से खरीदना रासायनिक खेती में, जैसे बीज, खाद, कीट नाशक, ट्रैक्टर और उपज के समय मंडी में भाव न मिलना.) 2.… Read More

Continue Reading

गाँव गाँव गौरक्षा दल बनाये

गाँव गाँव में गौ रक्षा दल बनायें ‬अगर हर शहर में 1 गौ रक्षा दल हो तो किसी की क्या मजाल जो गौ माता की तस्करी की तो छोड़ो छु भी न सकेगा ।किसी भी छोटे से शहर में जाकर देखे राजनैतिक पार्टियों के दल तो मिलेंगे लेकिन गौ रक्षा दल ढूढ़ने से भी नहीं मिलेगा । आज आप किसी भी महा विद्यालय में चले जाईये।अगर किसी लडके से कुछ कहासुनी हो जाये तो वो तुरन्त जेब से अपना फोन निकालकर. Call  करेगा थोडी देर में  पाँच दस लडके बाइक्स लेकर तुरन्त वहाँ पहुच जाते है।अगर वो सब लडके चाहें तो एक गौ रक्षा दल आसानी से बना सकते  है… Read More

Continue Reading